आपको अपने हाथों में कलावा या मोली क्यों बाँधनी है?

0
253

हिंदू धर्म में हाथ पर मौली बांधने का बड़ा महत्व है। हर पूजा पाठ या किसी भी शुभ काम से पहले हाथ पर मोली बांधी जाती है, जिसे कलावा या रक्षा सूत्र भी कहा जाता है। सदियों से ऐसा होता रहा है, लेकिन क्या आपने कभी सोचा है कि कलावा क्यों बांधा जाता है? आखिर इसके पीछे की कहानी है?

ऐसा माना जाता है कि कलावा बांधने से तीनों देवी लक्ष्मी पार्वती और सरस्वती का आशीर्वाद मिलता है।

किसी भी धार्मिक अनुष्ठान शुरू होने से पहले कलावा बांध दिया जाता है। वैसे यह भी मांगलिक कार्यक्रमों से बंधा है। ऐसा माना जाता है कि यह कालवा संकट के समय हमारी रक्षा कवच बन जाता है, लेकिन इस कलावा को कभी नहीं बदलना चाहिए।

चंद्रमा भगवान शंकर के सिर पर बैठा है, इसलिए उन्हें चंद्रमौली भी कहा जाता है। पुरुषों और अविवाहित लड़कियों के दाहिने हाथ और विवाहित महिला के बाएं हाथ पर कलावा बांधना चाहिए।

वैज्ञानिक रूप से, कलावा मधुमेह, रक्तचाप और दिल के दौरे जैसी बीमारियों से बचाने में मदद करता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here